बच्चो के लिए डी डी फ्रीडिश का दिवाली गिफ्ट, आ रहा है महा कार्टून टीवी डी डी फ्रीडिश पर १ नवम्बर से.

Mahacartoon TV now coming soon on DD Freedish DTH from 1st November 2016

इस दिवाली बच्चो के लिए एक बहुत बड़ी खुश खबरी जो दूरदर्शन फ्री डिश को देखते है क्योंकि अब वो मजे ले सकते है नए नए कार्टून प्रोग्राम्स, और अन्य बच्चो से संभंधित कार्यकर्मो को. क्योंकि डी वी ग्रुप बच्चो के लिए देश का पहला फ्री टू एयर लांच करने जा रहा हो जो की डी डी फ्री डिश पर 1 नवम्बर के बाद उपलव्ध होगा.

Advertisements

भारत में आज अगर देखा जाये तो 15 से अधिक कार्टून या किड्स चैनल उपलब्ध है जो की पे है या प्रीमियम सर्विस पर ही उपलब्ध है ये चैनल्स केवल शहरी आवादी के बच्चो को ही ध्यान में रखकर चलाये जा रहे है, जबकि महा कार्टून चैनल ग्रामीण बच्चो को ध्यान में रखकर लांच किया गया है जो की फ्री में अपने कार्यकर्मो को दिखायेगा.

इस चैनल पर दिखाए जाने वाले बच्चो के कार्यक्रम हिंदी भाषा में प्रसारित होंगे जिसमे भारतीय प्रोग्राम के साथ साथ विदेशी बच्चो के मनोरंजक कार्यक्रम भी उपलब्ध होंगे.

यहाँ पर कुछ कार्यकर्मो के बारे में आपको बता दे जिनमे
“मूशक गुनगुन” एक क्लासिक चूहे-बिल्ली की कहानी का भारतीय रूप है।
“बाल चाणक्य” एक तेज़ दिमाग भारतीय बच्चे की कहानी है जो आसानी से धैर्य के साथ विभिन्न बाधाओं को दूर करने की क्षमता रखता है।
“पंचतंत्र स्टोरिज़” पंचतंत्र की लघु कथाओं का संकलन है जिसमें भारत की सांस्कृतिक विरासत, वन्य जीवन और परिवेश दिखाया जाएगा।
“सिको” एक ज्ञान आधारित सीरीज़ है जो दर्शकों को दिलचस्प तथ्यों के बारे में जानकारी देगी।

वैसे महा कार्टून टीवी पहले से ही केबल टीवी और डी टी एच सेविसेस पर उपलब्ध है क्योंकि ये इस चैनल ने कंपनी के एक और चैनल “टेलीशॉप” टीवी की जगह बदला गया है और टेलीशॉप टीवी का पहले से मार्किट में डिस्ट्रीब्यूशन था.

अब जल्दी ये नया चेनल आपके अपने डी डी फ्रीडिश पर उपलव्ध होगा. वैसे आपने नोट किया होगा की डी डी फ्रीडिश हर साल दिवाली के समय पर कुछ खास चैनल्स को जोड़ती है, तो आप इसे बच्चो के लिए दिवाली गिफ्ट समझ सकते है. और आनंद लेते रहे डी डी फ्रीडिश का

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 2,816 other subscribers

5 टिप्पणियाँ

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.